Thursday, 10 March 2011

सामाजिक परिप्रेक्ष्य में.....

इंसानियत ........


श्रद्धा और मनु
ने
दिया जन्म
इंसानियत
को ...


नीयत
ने साथ
छोड़ दिया
और...


पथ-भ्रष्ट
हो गया
इंसा
........ kavs"Hindustani"..!!


3 comments:

  1. आपके आगे कुछ सुन्दर हो सकता है भला :) शुक्रिया।

    ReplyDelete
  2. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete